संघवाद किसे कहा जाता है--

संघवाद किसे कहा जाता है--

संवाद सरकार की एक ऐसी व्यवस्था है, जिसमें सरकार शक्तियों का विभाजन एक केंद्रीय सत्ता और उसकी विभिन्न इकाइयों में होता है।

2। भारत में संघात्मक सरकार एवं एकात्मक सरकार---
भारत संघात्मक और एकात्मक सरकारों का मिश्रण है दिखाएं देने में या संघात्मक है परंतु वास्तव में एकात्मक है।
एकात्मक सरकार वाले देशों का नाम कुछ है जैसे इंग्लैंड फ्रांस इटली चीन जापान उत्तर कोरिया और श्रीलंका में एक आदमी प्रकार की सरकारें हैं। और संघात्मक सरकार वाले देशों का नाम जैसे संयुक्त राज्य अमेरिका, कनाडा मैक्सिको , ब्राजील , बेल्जियम , जर्मनी , ऑस्ट्रेलिया और भारत इत्यादि जैसे हैं।

3। भारतीय संघ में स्तरीय शासन व्यवस्था का प्रावधान--
भारतीय संविधान द्वारा प्रारंभ में दो स्तरीय शासन व्यवस्था का प्रावधान किया गया संघ सरकार एवं राज्य सरकार बाद में भारतीय संघीय ढांचे में पंचायतों और नगर पालिकाओं के रूप में तीसरा अस्तर भी जोड़ा गया तीनों स्तरों की शासन व्यवस्था के अपने अलग-अलग अधिकार क्षेत्र हैं।

4। राज्य सूची का तात्पर्य एवं इसके कुछ विशेषताएं सम्मिलित हैं--
राज्य सूची में ऐसे कोई 66 विषय सम्मिलित है जो प्रांतीय एवं स्थानीय महत्व के हैं इनमें से मुख्य विषय कृषि सिंचाई व्यापार वाणिज्य एवं पुलिस आदि है इन विषयों पर राज्य सरकारी की कानून बना सकती है।

5। समवर्ती सूची का तात्पर्य एवं और इसमें कुछ विशेष सम्मिलित विशेषताएं हैं--
समवर्ती सूची ऐसे विषय दे रहे हैं जिनका संबंध दोनों केंद्र और राज्य सरकारों से होता है इन विषयों की गिनती कोई 47 के लगभग है जिनमें से मुख्य दीवानी एवं फौज वादी कानून विवाह एवं तलाक को उत्तराधिकार शिक्षा वन बिजली एवं श्रम संगठन आदि इन विषयों पर दोनों तथा राज्यों की सरकारों कानून बना सकती है परंतु विवाह के समय केंद्र द्वारा बनाया गया कानून ही मान्य होगा।

6  । अवशिष्ट शक्तियां का तात्पर्य--
संघ सूची में 97 राज्यों सूची में 66 और समवर्ती सूची में कोई 47 शासन संबंधी विषय है परंतु फिर भी कुछ विषय ऐसे हो सकते हैं जिनका समावेश कई सूचियों में ना हो पाया हो ऐसे अशिष्ट या बच्चे हुए विषयों पर संविधान द्वारा कानून बनाने का अधिकार केवल केंद्र सरकार को दिया गया है।

7। केंद्रीकरण का तात्पर्य--
केंद्रीयकरण ऐसी व्यवस्था है जिसके अनुसार निर्णय लेने का अधिकार आगे छोटी छोटी इकाइयों में बांट दिया जाता है भारत में सत्ता की साझेदारी तीन स्तरों में बांटा गया है केंद्र स्तर राज्य स्तर और स्थानीय स्तर है।

8। महापोर:-गांव में स्थानीय विषयों की देखभाल पंचायत तय करती है वह कार्य शहरों में नगर पालिका और नगर निगम में करती है छोटे नगरों के लिए नगरपालिका होती है जबकि बड़े नगर के लिए नगर निगमों की व्यवस्था होती है नगर निगम की राजनीतिक प्रधान को महापौर मेयर कहा जाता है!

9  । गठबंधन सरकार का तात्पर्य--
एक से ज्यादा राजनीतिक पार्टियों द्वारा साथ मिलाकर बनाई गई सरकार को संगठन सरकार कहते हैं आमतौर पर संगठन में सम्मिलित दल एक राजनीतिक गठजोड़ करते हैं | और एक साझा कार्यक्रम स्वीकार करते हैं।
-भारत में बोली जाती है भाषाएं 1500 लगभग बोली जाती है हिंदी को राज्य भाषा का दर्जा दिया गया है।
-भारत में लगभग 40% लोगों ने हिंदी को अपनी मातृभाषा घोषित किया है तभी तो इसे सबसे महत्वपूर्ण राज्य भाषा घोषित किया गया है।
-भारत संविधान द्वारा हिंदी के अलावा अन्य भाषाओं को अनुसूचित भाषा का दर्जा दिया गया है इस प्रकार कुल अनुसूचित भाषाएं 22 हैं।