Billi ki Hindi kahani


मकावीटी एक रहस्यमय बिल्ला है,  वाह छुपा रुस्तम कहलाता है
कि वह एक शातिर अपराधी है जो कानून को ता धता बता सकता है।
वह व्यग्र करने वाला है, स्कारलेट यार्ड के लिए फ्लाइंग स्कवाड के दुख का कारण
कि जब अपराध स्थल पर पहुंचते हैं मकावीटी वहां नहीं होता!

मकावीटी,मकावीटी, कोई मकावीटी जैसा नहीं है
उसने हर माननीय कानून तोड़ा है, उसने गुरुत्वाकर्षण के नियम को तोड़ा है।
और आप अपराध स्थल पर पहुंचे-मकावीटी वहां नहीं है!
आप उसे बेसमेंट मैं ढूंढें , आप ऊपर हवा में देखें-
परंतु मैं आपको फिर बताऊं, मकावीटी वहां नहीं है।

मकावीटी एक सुख की इच्छा करने बिल्ला है, वह बहुत लंबा और पतला है
आप उसे जान जाएंगे अगर आप उसे देखेंगे कि उसकी आंख अंदर घुशी हुई है।
उसकी भोरे गहरी है, उसका सिर गोल है
उसका कोड धूल में है अपेक्षा की वजह से उसकी मुझे कंधा नहीं है।
वह अपना सिर इधर-उधर घूम आता है सांप की तरह हलचल में
और जब आप सोचें कि वह आधे निद्रा में है वह सदा चुस्ती से जागा है।

मकावीटी,‌मकावीटी,मकावीटी जैसा कोई नहीं
कि वह परम बिल्ली के रूप का एक दानव है भ्रष्टता का।
आप उसे एक छोटी गली में मिल सकते हैं आप मुझसे मैदान में देख सकते हैं।
लेकिन जब अपराध का पता लगता है ,मकावीटी वहां नहीं होता है।